sabato 7 gennaio 2017

खजुराहो में कामुक मूर्तियों के दर्शन!

खजुराहो में कामुक मूर्तियों के दर्शन! खजुराहो के मंदिर अपनी कामुक मूर्तियों की वजह से भारत के अन्य मंदिरों से भिन्न है। 



Image Courtesy: Liji Jinaraj
 








Image Courtesy: Abhishek Singh Bailoo


Image Courtesy: Ed Johnson






Image Courtesy: Diana Olivares
 
 
 
 
 
 
 
 
 
Image Courtesy: Jeff Hart
 
 
 
 
 
 
 
 
 
Image Courtesy: Ross Huggett
 
 
 
Image Courtesy: pupilinblow

Image Courtesy: Nick
 
Image Courtesy: Prashant Ram
 
Image Courtesy: Prashant Ram
 
 
Image Courtesy: Noé Alfaro

Image Courtesy: cool_spark

Image Courtesy: Jean-Pierre Dalbéra

 
 
Image Courtesy: Patty Ho
 
 

 हिन्दू और जैन धर्म के मंदिरों का सबसे बड़ा समूह, खजुराहो में स्मारकों का समूह, दुनिया के सबसे खूबसूरत सबसे प्रसिद्द और ऐतिहासिक विरासतों में से एक है। मुख्य तौर पर अपनी वास्तु विशेषज्ञता, बारीक़ नक्काशियों और कामुक मूर्तियों के लिए जाना जाने वाली यह रचना यूनेस्को द्वारा वैश्विक धरोहर की सूचि में भी शामिल है। [खजुराहो मंदिर से जुड़ी दिलचस्प बातें!] हालाँकि भारत में कई ऐसे और मंदिर भी हैं जहाँ कामुक मूर्तियों का चित्रण किया गया है, जैसा कि हमने अपने पिछले लेख, 'मंदिर जहाँ की खासियत हैं वहाँ की कामुक मूर्तियाँ !' में उल्लेखित किया और दर्शाया है, पर इन मंदिरों का खजुराहो के मंदिरों से कोई तुलना ही नहीं है। खजुराहो में एक अलग ही आकर्षण के साथ चित्रित की गई ये मूर्तियां अपने में एक सबसे अलग रचना है। आप जब भी मध्य प्रदेश की यात्रा में जाएँ इस यूनेस्को धरोहर के दर्शन करना ना भूलें। [खजुराहो का अंतिम मंदिर!] आप इन आकर्षक मूर्तियों को यहाँ की दीवारों, खम्भों आदि में देख पाएंगे। मूर्तियों के चित्रित चरित्र हमें सांसारिक सुख के बारे में काफी कुछ बयां करते हैं। लेकिन आप यह मत सोचियेगा की यहाँ सिर्फ इन मूर्तियों का ही चित्रण हुआ है, इनके अलावा यहाँ कई ऐसी मूर्तियां भी उकेरी गई हैं जो हमारे रोज़ाना की ज़िन्दगी की कहानियों को उल्लेखित करती हैं। कई शोधकर्ताओं और विद्वानों के अनुसार इन मूर्तियों को यहाँ चित्रित करने का एक मुख्य उद्देश्य यह है कि, जो भी मंदिर के अंदर प्रवेश करे वो अपने सारी विलासिताओं से भरे मन को बाहर छोड़ साफ़ मन से प्रवेश करे। और इन विलासिताओं से छुटकारा पाने के लिए ज़रूरी है इनका अनुभव करना। इसलिए इन मूर्तियों का चित्रण सिर्फ मंदिर की बाहरी दीवारों पर किया गया है। खजुराहो पहुँचें कैसे? तो चलिए आज हम आपको खजुराहो की कुछ सबसे अच्छी और कामुक मूर्तियों की झलक दिखलाते हैं।

Nessun commento:

Posta un commento